Speeches



मुंबई, 20 अगस्त 2016:हज हाउस, मुम्बई में अधिकारियों के साथ हज की तैयारियों की समीक्षा बैठक की मेरी प्रेस विज्ञप्ति:

केंद्रीय अल्पसंख्यक मामलों के राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) एवं संसदीय कार्य राज्यमंत्री श्री मुख़्तार अब्बास नक़वी ने हज हाउस, मुम्बई में अधिकारियों के साथ एक समीक्षा बैठक कर हज की तैयारियों का जायजा लिया।

श्री नक़वी ने कहा कि अल्पसंख्यक मंत्रालय एवं अन्य विभाग हज पर जाने वाले यात्रियों की सुविधाओं और सुरक्षा के सम्बन्ध में बेहद गंभीर हैं ताकि हज पर जाने वालों को किसी भी तरह की समस्या ना हो।

कल रात हुई इस बैठक में श्री नक़वी ने कहा कि केंद्रीय अल्पसंख्यक मंत्रालय हज पर जाने वाले भारत के लगभग एक लाख छत्तीस हजार हज यात्रियों की सुविधा-सुरक्षा की देख रेख के लिए मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारियों का दल सऊदी अरब भेज रहा है। इस बैठक में हज कमिटी ऑफ़ इंडिया के सीईओ श्री अत्ताउर रहमान तथा अन्य अधिकारी भी शामिल थे।

श्री नक़वी ने हज के लिए आयोजित एक ट्रेनिंग कैंप में भी भाग लिया जहाँ उन्होंने बड़ी संख्या में इस बार हज पर जाने वालों से मुलाकात की। इस बार ट्रेनिंग कैंप में हज से सम्बंधित विभिन्न जानकारियों के साथ-साथ हज पर जाने वालों को आपदा प्रबंधन की भी जानकारी दी गई।

श्री नक़वी ने कहा कि इस बार हज के लिए कुल यात्रियों के लगभग 10 प्रतिशत लोगों ने ऑनलाइन आवेदन किया। श्री नक़वी ने कहा कि अगले वर्ष ऑनलाइन आवेदन को बड़े पैमाने पर प्रोत्साहित किया जायेगा।

श्री नक़वी ने देश और पूरी दुनिया में शांति, समृद्धि और सौहार्द की दुआओं के साथ हज की सफलता की कामना की। इस ट्रेनिंग कैंप के अवसर पर स्थानीय शिवसेना सांसद श्री अरविंद सावंत, भाजपा विधायक श्री राज पुरोहित, हज कमिटी ऑफ़ इंडिया के सीईओ श्री अत्ताउर रहमान, हज कमिटी के सदस्य एवं गुजरात संयोजक श्री हसन काज़मी और अन्य गणमान्य उपस्थित थे।

इससे पहले भी देश के विभिन्न राज्यों में हज पर जाने वालों के लिए व्यापक स्तर पर ट्रेनिंग की व्यवस्था की गई थी।

27 अगस्त से मुंबई से हज यात्रियों के जत्था जेद्दाह, सऊदी अरब के लिए रवाना होंगे। मुंबई से लगभग 4,500 हज यात्री हज यात्रा पर जायेंगे। हज 2016 के लिए कुल एक लाख बीस (1,00,020) हज यात्रियों का जत्था हज समिति के माध्यम से भारत के 21 स्थानों से हज यात्रा हेतु जा रहे हैं। इसके अलावा 36,000 हज यात्रियों के दल निजी टूर ऑपरेटरों के माध्यम से हज यात्रा पर जाना शुरू हो गए हैं।