Speeches



नई दिल्ली में 15 फरवरी, 2016 को भाजपा प्रतिनिधिमंडल की चुनाव आयोग से भेंट की प्रेस विज्ञप्ति:

केंद्रीय मंत्री एवं वरिष्ठ भाजपा नेता श्री मुख़्तार अब्बास नक़वी के नेतृत्व में पार्टी का एक प्रतिनिधिमंडल केरल और पश्चिम बंगाल में होने वाले आगामी विधानसभा चुनाव के संबंध में महत्वपूर्ण मुद्दों को लेकर आज मुख्य चुनाव आयुक्त एवं चुनाव आयुक्तों से मिला।

भाजपा प्रतिनिधिमंडल ने चुनाव आयोग को एक ज्ञापन सौंप कर केरल और पश्चिम बंगाल में निष्पक्ष, भयमुक्त माहौल में विधानसभा चुनाव सुनिश्चित किये जाने की मांग की।

श्री नक़वी के नेतृत्व वाले प्रतिनिधिमंडल में भाजपा के राष्ट्रीय महामंत्री श्री अरुण सिंह, पार्टी के राष्ट्रीय सचिव श्री श्रीकांत शर्मा और प्रवक्ता श्री सुधांशु त्रिवेदी एवं श्री नलिन कोहली शामिल थे।

भाजपा प्रतिनिधिमंडल ने कहा कि केरल के 2016 की प्रकाशित मतदाता सूची में बड़े पैमाने पर गड़बड़ी पाई गई है। जैसे कि 2011 की जनगणना के अनुसार केरल की कुल जनसँख्या 3,34,06061 है। जबकि मतदाता सूची में 2,56,27,620 मतदाता दिखाए गए हैं जो की असंभव है क्योंकि जनगणना में 18वर्ष की आयु से कम लोगों की भी शामिल किया गया है।
इसके अतिरिक्त लगभग 23.63 लाख नॉन-रेजिडेंट (अनिवासी) केरलाईट को वोटर लिस्ट में जगह नहीं मिली है। तत्काल मतदाता सूची की इस गलती को ठीक किया जाये एवं ऑनलाइन वोटर रजिस्ट्रेशन को जारी रखा जाये।

भाजपा प्रतिनिधिमंडल ने कहा कि केरल के कई विधानसभा क्षेत्रों में कुछ राजनैतिक दलों के द्वारा अराजकता एवं निष्पक्ष, भयमुक्त चुनाव प्रक्रिया को प्रभावित करने का प्रयास हो सकता है।

भाजपा प्रतिनिधिमंडल ने कहा कि पश्चिम बंगाल के विभिन्न क्षेत्रों में लगातार सांप्रदायिक उन्माद एवं हिंसा की घटनाएँ हो रही हैं, भाजपा के सैंकड़ों कार्यकर्ताओं की हत्या हो चुकी है। कई प्रशासनिक एवं पुलिस अधिकारी सत्ता पक्ष के कार्यकर्ताओं की तरह काम कर रहे हैं। पश्चिम बंगाल के कुछ जिले राष्ट्र विरोधी एवं अराजक तत्वों के गठजोड़ का गढ़ बन गए हैं। सत्ताधारी पार्टी ऐसे लोगों की गतिविधियों के प्रति या तो मूक दर्शक बनी हुई है या उन्हें बचाती दिख रही है।

भाजपा प्रतिनिधिमंडल ने चुनाव आयोग से अनुरोध किया कि, इन राज्यों में निष्पक्ष, भयमुक्त एवं स्वतंत्र माहौल में चुनाव हेतु विशेष प्रयास एवं मतदाताओं में विश्वास पैदा करने के लिए प्रभावी उपाय किये जाये। पर्याप्त केंद्रीय सुरक्षा बल एवं विशेष पर्यवेक्षक नियुक्त किये जायें।

चुनाव आयोग ने भाजपा नेताओं की मांग पर सकारात्मक कदम उठाये जाने को लेकर आश्वस्त किया। चुनाव आयोग ने कहा कि केरल में बूथ स्तर पर मतदाता सूची की जांच करवा कर गड़बड़ियों को ठीक किया जायेगा। पश्चिम बंगाल में निष्पक्ष एवं भयमुक्त माहौल में चुनाव कराये जाने को लेकर भी चुनाव आयोग ने आश्वस्त किया। चुनाव ने कहा कि विधानसभा चुनाव निष्पक्ष एवं भयमुक्त माहौल में हो सकें इसके लिए आयोग कड़ी नजर रखेगा और पर्याप्त केंद्रीय सुरक्षा बल एवं विशेष पर्यवेक्षक तैनात किये जाने को लेकर भी आश्वस्त किया।