Speeches



हैदराबाद, 05 अक्टूबर 2017: हैदराबाद के यूसुफगुड़ा में "प्रधानमंत्री मुद्रा योजना" के प्रोत्साहन कैंप के दौरान मेरे सम्बोधन की प्रेस विज्ञप्ति

केंद्रीय अल्पसंख्यक कार्य मंत्री श्री मुख्तार अब्बास नकवी ने आज यहाँ कहा कि विपक्षी पार्टियों एवं "बेईमानी के बाहुबलियों" के द्वारा की जा रही तमाम तिकड़मों के बावजूद केंद्र की प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली सरकार, भारत को एक आर्थिक शक्ति बनाने की दिशा में आगे बढ़ रही है।

हैदराबाद के यूसुफगुडा में कोटला विजया भास्कर रेड्डी इंडोर स्टेडियम में "प्रधानमंत्री मुद्रा योजना" के प्रोत्साहन कैंप में आम जनता, कारोबारियों, उद्योग जगत के प्रतिनिधियों, सामाजिक क्षेत्र के लोगों को सम्बोधित करते हुए श्री नकवी ने कहा कि मोदी सरकार ने 8 अप्रैल 2015 को शुरू "प्रधानमंत्री मुद्रा योजना" के तहत अभी तक 9 करोड़ 13 लाख ऋण स्वीकृत किये गए हैं।

श्री नकवी ने कहा कि इस योजना के तहत लाभ पाने वालों में लगभग 76 प्रतिशत महिलाएं हैं। लाभार्थियों में लगभग 55 प्रतिशत से ज्यादा अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, पिछड़े वर्ग, अल्पसंख्यक वर्ग के लोग शामिल हैं। लाभार्थियों में 3 लाख 96 हजार करोड़ रुपए के ऋण स्वीकृत किये गए हैं।

श्री नकवी ने कहा कि दुनिया का हर देश आज भारत को आर्थिक ताकत मान रहा है। आज भारत दुनिया का सबसे मजबूत एवं सुरक्षित निवेश का केंद्र बन गया है। श्री नकवी ने कहा कि पिछले 3 वर्षों के दौरान मोदी सरकार ने अर्थव्यवस्था को मजबूत दिशा दी है। आर्थिक विकास दर 7 प्रतिशत से ऊपर रही है।

श्री नकवी ने कहा कि भारत की अर्थव्यवस्था को सुदृढ़ बनाने के लिए मोदी सरकार ने जो कदम उठाये उनमे सबसे बड़ा और असरदार कदम है “नोट बदली”। श्री नकवी ने कहा कि “नोट बदली” जैसा कड़ा कदम श्री नरेंद्र मोदी जैसा प्रधानमंत्री ही उठा सकता है। जो राजनीति में नहीं बल्कि राष्ट्रनीति पर विश्वास करते हैं।

श्री नकवी ने कहा कि कुछ राजनैतिक दल और कुछ लोग, प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी को "कोसते-कोसते, जनता से कोसों दूर हो गए हैं।" "कोसने वालों और काम करने वालों में कम्पटीशन" चल रहा है। "कुशासन-करप्शन का काकस" सरकार को कोसने के कम्पटीशन में व्यस्त है, जबकि प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी देश की प्रगति को अपना धर्म मान कर काम कर रहे हैं। इस कम्पटीशन में जीत काम करने वालों की ही होगी।

श्री नकवी ने कहा कि “नोट बदली” के लाभ अब दिखाई दे रहे हैं। डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर के माध्यम से जरूरतमंदों के बैंक खाते में सीधे पैसा भेज कर पारदर्शिता सुनिश्चित की है।

"प्रधानमंत्री मुद्रा योजना" के प्रोत्साहन कार्यक्रम में श्री नकवी ने इस योजना के साथ-साथ "स्टार्ट अप इंडिया", "स्टैंड अप इंडिया" जैसी योजनाओं की जानकारी लोगों को दी। "प्रधानमंत्री मुद्रा योजना" के तहत विभिन्न श्रेणियों में- “शिशु” में 50 हजार रूपये तक, “किशोर”– 50 हजार रूपये से 5 लाख रूपये तक, “तरूण”– 5 लाख रूपये से 10 लाख रूपये तक का ऋण दिया जा रहा है।