Speeches



अजमेर, 01 अप्रैल, 2017: अजमेर शरीफ दरगाह में माननीय प्रधानमंत्री की चादर चढाने की प्रेस विज्ञप्ति:

केंद्रीय अल्पसंख्यक कार्य राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) एवं संसदीय कार्य राज्यमंत्री श्री मुख्तार अब्बास नकवी ने आज प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी की ओर से अजमेर शरीफ में ख्वाजा मोईनुद्दीन चिश्ती की दरगाह पर चादर चढ़ाई और देश की तरक्की और हर तबके की खुशहाली की दुआ मांगी।

श्री नकवी ने प्रधानमंत्री श्री मोदी का सद्भावना संदेश भी पढ़ा जिसमे श्री मोदी ने ख्वाजा मोईनुद्दीन चिश्ती के 805वे वार्षिक उर्स के अवसर पर भारत तथा पूरे विश्व में उनके अनुयायियों को शुभकामना एवं बधाई दी।

प्रधानमंत्री ने अपने सन्देश में कहा- "ख्वाजा मोईनुद्दीन चिश्ती के वार्षिक उर्स के अवसर पर, विश्व-भर में उनके अनुयायियों को शुभकामनाएं और बधाई। 
ख्वाजा मोईनुद्दीन चिश्ती, भारत की महान आध्यात्मिक परंपरा के प्रतीक हैं। गरीब नवाज़ ने मानवता की सेवा का जो परिचय दिया, वह निश्चय ही आने वाली पीढ़ियों को प्रेरणा देता रहेगा। आने वाले वार्षिक उर्स के सफल आयोजन के लिए मेरी शुभकामनाएं।"

प्रधानमंत्री श्री मोदी द्वारा भेजी गई चादर का समाज के हर वर्ग के लोगों ने पूरे जोश-जुनून के साथ स्वागत किया।

श्री नकवी ने कहा कि भारत पूरी दुनिया के लिए सामाजिक-सांस्कृतिक सौहार्द और एकता की मिसाल है। हमें हर हाल में सौहार्द और एकता की अपनी इस सामाजिक बुनियाद को और मजबूत करना होगा।

श्री नकवी ने कहा कि "गरीब नवाज" का जीवन हमें सामाजिक सौहार्द और एकता की ताकत को और मजबूत करने की प्रेरणा देता है जिससे की हम टकराव-बिखराव पैदा करने वाली ताकतों को परास्त कर सकें।

श्री नकवी ने कहा कि मजबूत इच्छा शक्ति वाले प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली एनडीए सरकार का मूल मंत्र और संकल्प है "देश में विकास-देशवासियों में विश्वास"। हमारा लक्ष्य है "सबका साथ, सबका विकास।"

श्री नकवी ने कहा कि ख्वाजा मोईनुद्दीन चिश्ती का संदेश "विश्व शांति का प्रभावी संकल्प" है। ख्वाजा साहब का यह संदेश मानवीय मूल्यों की रक्षा और आतंकी-शैतानी ताकतों के मंसूबों को परास्त करने का मजबूत हथियार है।