Speeches



सिरसी, संभल (उ.प्र), 10 फरवरी 2017:उ.प्र. के संभल के सिरसी में चुनावी सभा के दौरान मेरे भाषण के मुख्य अंश:

 वरिष्ठ भाजपा नेता एवं केंद्रीय मंत्री श्री मुख्तार अब्बास नकवी ने आज कहा कि केवल भाजपा ही उत्तर प्रदेश को “भ्रष्टाचार-गुंडाराज-बदहाली के मकड़जाल”से निकाल कर तरक्की और खुशहाली के रास्ते पर आगे ले जा सकती है।

सभी वर्ग के लोगों को किसी के दुष्प्रचार से प्रभावित हुए बिना खुले दिमाग से अपने वोट का इस्तेमाल करना चाहिए। और "अपने वोट का इस्तेमाल हराने के लिए नहीं, जिताने के लिए करना चाहिए"।

उत्तर प्रदेश में संभल के सिरसी के सादक सराय में एक चुनावी सभा को संबोधित करते हुए श्री नकवी ने कहा कि उत्तर प्रदेश को "माफियाराज, गुंडाराज, भ्रष्टाचार के गठबंधन" के चंगुल से छुड़ा कर भाजपा राज्य को विकास, विश्वास, सुशासन के संकल्प के साथ काम करने वाली सरकार देगी। भाजपा "वोट के सौदे" पर नहीं "विकास के मसौदे" पर यकीन करती है।

श्री नकवी ने कहा कि जहाँ एक तरफ कांग्रेस "बेईमानों की बेनामी प्रॉपर्टी" बन गई है जिसके दरवाजे पर "To-Let" का बोर्ड लगा हुआ है वहीँ समाजवादी पार्टी इसी "बेईमानी की बेनामी प्रॉपर्टी की किरायेदार" बन गई है। वहीं बसपा "बाहुबलियों और बेईमानों का बसेरा" बन गई है। श्री नकवी ने कहा की भाजपा "बाहुबलियों-बेईमानों का बंटाधार" कर प्रचंड बहुमत से उत्तर प्रदेश में सरकार बनाएगी। भाजपा "समावेशी विकास और विश्वास" पर यकीन करती है और समाज के सभी वर्गों के तरक्की की गारंटी है।

श्री नकवी ने कहा कि गांव, गरीब, किसान, कमजोर तबके, दलित, अल्पसंख्यक, युवा, महिलाएं केंद्र की प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली सरकार के हर कल्याणकारी योजना और कार्यक्रम का केंद्र बिंदु हैं। हमारा संकल्प है "हर गरीब की आँखों में खुशी और जिंदगी में खुशहाली" लाना। श्री नकवी ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी का लक्ष्य विकास की रौशनी समाज के आखिरी व्यक्ति तक पहुँचाना है। श्री मोदी "मैन ऑफ डिटरमिनेशन एंड इंस्पिरेशन" हैं।

श्री नकवी ने कहा कि "तुष्टिकरण बिना सशक्तिकरण" कैसे किया जाता है, भाजपा की केंद्र सरकार ने कर दिखाया है। भाजपा सुशासन की बात करती है, "समावेशी विकास" की बात करती है। लेकिन मोदी सरकार ने देश में जो विकास और विश्वास का माहौल तैयार किया है वह उन लोगो को हजम नहीं हो रहा है जो गरीबों और कमजोर तबकों का दशकों से "राजनीतिक शोषण" करते रहे हैं।

प्रधानमंत्री श्री मोदी के विकास के कार्यों से जहाँ देश भर की जनता, उत्तर प्रदेश की जनता खुश है, नोटबंदी जैसे फैसले का समर्थन कर रही है जिसने भ्रष्टाचार, कालेधन के खिलाफ निर्णायक लड़ाई की शुरुआत कर दी है। लेकिन नोटबंदी से कुछ राजनीतिक दल बौखला गए हैं। क्योंकि गरीबों के हक पर डाका डाल कर दशकों से इनका इकठ्ठा किया हुआ काला धन एक झटके में बर्बाद हो गया। ये दल भाजपा को रोकने के लिए एक हो गए हैं।

वो लोग जो चुनाव की घोषणा होने के ठीक पहले तक सुबह-शाम एक दूसरे को कोसते थे, एक दूसरे को राज्य की बदहाली के लिए जिम्मेदार ठहराते थे, वही लोग आज एक हो गए हैं। "विकास और विश्वास" के माहौल से ये पार्टियां इतनी डर गयी हैं की अपनी दशकों पुरानी दुश्मनी भुला कर गले लग रही हैं।

हकीकत यह है कि इन पार्टियों को अपनी जमीन खिसकती दिख रही है। “किसी की साइकिल पंक्चर हो गई है, कोई पंक्चर साइकिल का हैंडल थाम कर अपनी डूबती नैया को पार लगाना चाहता है।“

श्री नकवी ने लोगों से अपील की कि वो "बेईमानों की विदाई बारात का बाराती" बनने के बजाय "सुशासन और विकास के कारवां" का हिस्सा बनें। यह देश, प्रदेश, समाज सभी के लिए अच्छा होगा।

केंद्र सरकार की उपलब्धियां बताते हुए श्री नकवी ने कहा कि "दिन दयाल उपाध्याय ग्राम ज्योति योजना" ने आजादी के लगभग 7 दशकों के बाद भी अँधेरे में डूबे लगभग 11 हजार गांवों में बिजली पहुंचा कर इन गांवों में रहने वाले लाखों परिवारों के घर ही नहीं बल्कि जिंदगी में भी उजाला किया है।

"प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना" के तहत देश पिछले एक वर्ष में 1.5 करोड़ से ज्यादा गैस कनेक्शन निशुल्क दिए गए हैं।

किसानों की आमदनी को दोगुना करने के लिए कई कदम उठाये गए हैं। "बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ", "सुकन्या समृद्धि योजना" जैसी योजनाएं "नारी शक्ति" को समर्पित है। "प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना" ने लाखों युवाओं को रोजगार परक ट्रेनिंग दी गई है ताकि "हर हाथ को काम" देने के हमारे लक्ष्य को पूरा किया जा सके।

उत्तर प्रदेश में केंद्र सरकार की विभिन्न योजनाओं और केंद्र द्वारा विकास हेतु भेजे जा रहे धन का दुरूपयोग हो रहा है। उ.प्र को “आदर्श प्रदेश” बनाने के लिए भाजपा की सरकार लाना जरुरी है।