Speeches



नई दिल्ली, 19 सितंबर, 2016: "समाज बचाओ संदेश" पुस्तक के लोकार्पण के अवसर पर मेरी प्रेस विज्ञप्ति:

केंद्रीय अल्पसंख्यक मामलों के राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) एवं संसदीय कार्य राज्यमंत्री श्री मुख़्तार अब्बास नक़वी ने आज यहाँ कहा कि "पाकिस्तान में चल रही आतंकवाद की फैक्ट्री का बदबू फैला रहा प्रदूषण पूरी दुनिया की सेहत के लिए बड़ा खतरा बन गया है और इसका फौरन इलाज जरुरी है।"

नई दिल्ली में "समाज बचाओ संदेश" पुस्तक का लोकार्पण करते हुए श्री नक़वी ने कहा कि आज पूरी दुनिया का अमन और इंसानी मूल्य पाकिस्तान में पल-बढ़ रही शैतानी ताकतों के चलते खतरे में पड़ गया है। यह शैतानी ताकतें बेगुनाह इंसानी लाशों पर हैवानियत का जश्न मना रही हैं।

श्री नक़वी ने कहा कि आज पूरी दुनिया यह समझ गई है कि पाकिस्तान आतंकवाद को पनाह देने वाला, आतंकियों को शरण देने वाला देश है जो भारत ही नहीं बल्कि पूरी दुनिया में अमन और इंसानियत के लिए एक गंभीर खतरा है।

श्री नक़वी ने कहा कि पाकिस्तान भारत के खिलाफ आतंकवाद को अपनी राज्य नीति बनाकर इस्तेमाल कर रहा है। लेकिन केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार देश के लोगों को यह भरोसा दिलाती है कि अमन और आतंक की इस जंग में आतंक और उसके आकाओं का खात्मा होगा।

श्री नक़वी ने कल जम्मू और कश्मीर के उरी में आतंकवादी हमले में शहीद हुए भारत के वीर सैनिकों को नमन करते हुए कहा कि भारत की सेना देश के खिलाफ किसी भी साजिश को परास्त करने में सक्षम है। भारत अपने सभी पडोसी देशों से अच्छे रिश्ते चाहता है लेकिन यदि पाकिस्तान ने अपनी जमीन का भारत के खिलाफ इस्तेमाल बंद नहीं किया तो उसे इसका गंभीर अंजाम भुगतना पड़ेगा।

श्री नक़वी ने कहा कि आतंकवाद के खिलाफ प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली एनडीए सरकार की "जीरो टॉलरेंस" की नीति के चलते आज पाकिस्तान का असली चेहरा पूरी दुनिया के सामने बेनकाब हो गया है। आज पाकिस्तान दुनिया भर में अलग-थलग पड़ गया है और उसकी छवि एक "आतंकवादी देश" की बन गई है।

आतंकवाद और कट्टरवाद को मानवता का सबसे बड़ा दुश्मन बताते हुए श्री नक़वी ने कहा कि विश्व को अब यह समझना होगा कि दुनिया भर में शांति, समृद्धि और सौहार्द के लिए सबसे बड़ा खतरा बन चुकी आतंकी ताकतें और उनके संरक्षकों के खिलाफ कड़ी कार्यवाही की जरुरत है। श्री नक़वी ने कहा कि आतंकवाद को किसी धर्म विशेष से जोड़ने से हम शैतानी ताकतों के जाल में फंस जायेंगे। आतंकवाद का किसी भी धर्म से कोई लेना देना नहीं है।

"समाज बचाओ संदेश" पुस्तक को शुभकामनाएं देते हुए श्री नक़वी ने कहा कि मुझे पूरी उम्मीद है कि यह पुस्तक अमन और सद्भाव की शिक्षा देगी और दहशतगर्दी के खिलाफ समाज में जागरूकता पैदा करेगी।