नई दिल्ली, 8 जून, 2020: आज उत्तर प्रदेश के भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा के कार्यकर्ताओं को वर्चुअल मीटिंग के जरिये सम्बोधित किया। प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी की सरकार के समावेशी विकास, सर्वस्पर्शी सशक्तिकरण के सफल परिणामों से परेशान कुछ लोग देश में अल्पसंख्यकों के बीच "भय-भ्रम का भूत" खड़ा करने का "पाखंडी प्रयास" कर रहे हैं। प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के 6 वर्षों के कार्यकाल में समावेशी विकास "राजनैतिक किस्सा नहीं बल्कि राष्ट्रनीति का हिस्सा" बन गया है। समाज के सभी वर्गों के साथ अल्पसंख्यक भी समृद्धि, सशक्तिकरण एवं सम्मान के बराबर के हिस्सेदार-भागीदार बने हैं। जहाँ एक ओर प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी की सरकार, समाज के सभी वर्गों में “समृद्धि-सम्मान-सुरक्षा” के संकल्प के साथ काम कर रही है वहीँ कुछ लोग समाज में दहशत और डर का माहौल खड़ा करने की “आपराधिक साजिश” में लगे हुए हैं। ऐसे लोग भारत को दुनिया में बदनाम करने की "साजिशी सियासत" कर रहे हैं, हमें ऐसे सौहार्द-समृद्धि एवं सम्मान के दुश्मनों से सतर्क भी रहना है और उन्हें बेनकाब भी करना है।