कोलकाता, 12 मई, 2019:आज कोलकाता में पश्चिम बंगाल भाजपा कार्यकर्ताओं के साथ बैठक में भाग लिया। श्री राहुल सिन्हा, श्री शिशिर बजोरिया एवं अन्य वरिष्ठ नेता और कार्यकर्त्ता उपस्थित रहे। तृणमूल कांग्रेस प्रायोजित हिंसा-अराजकता के माहौल में भी पश्चिम बंगाल की महान जनता के साथ लोकतंत्र एवं संवैधानिक मूल्यों की रक्षा के लिए पश्चिम बंगाल भाजपा कार्यकर्ताओं के समर्पण एवं संकल्प को सलाम किया। लोकसभा चुनाव के नतीजों के बाद कई राजनैतिक दलों की मान्यता भी खतरे में पड़ जाएगी। कांग्रेस और उसके कुछ साथियों का "सामंती सुरूर" और "शहंशाही गुरुर" चुनावी नतीजों के बाद काफूर हो जायेगा। दीदी के नेतृत्व में तृणमूल कांग्रेस, लोकतंत्र पर "गुंडातंत्र" को हावी करना चाहती है।तृणमूल कांग्रेस, सत्ता को "अराजकता की प्रयोगशाला" बनाना चाहती है।"सत्यमेव जयते की विरासत" को यह लोग "झूठमेव जयते की सियासत" में बदलने की कोशिश कर रहे हैं।