नई दिल्ली, 14 जुलाई, 2018: आज नई दिल्ली में अल्पसंख्यक मंत्रालय द्वारा मदरसा छात्रों एवं स्कूल ड्राप आउट्स के लिए चलाये जा रहे "ब्रिज कोर्स" में उत्तीर्ण छात्र/छात्राओं को प्रमाणपत्र वितरित किया। प्रधानमंत्री श्री Narendra Modi की सरकार "मदरसों पर ताला" नहीं बल्कि "फॉर्मल तालीम की माला" चाहती है।अल्पसंख्यक मंत्रालय द्वारा स्कूल ड्रॉपआउट्स और मदरसों में शिक्षा ले रहे छात्र-छात्राओं के शैक्षिक सशक्तिकरण के लिए शुरू किये गए "3T"- टीचर, टिफिन, टॉयलेट अभियान को जबरदस्त कामयाबी मिली है।अल्पसंख्यक मंत्रालय "3E - एजुकेशन, एम्प्लॉयमेंट, एम्पावरमेंट" के संकल्प के साथ काम कर रहा है। पिछले लगभग एक वर्ष में देश भर में मदरसों सहित सभी अल्पसंख्यक समुदाय के हजारों शैक्षिक संस्थानों को "3T -टीचर, टिफ़िन, टॉयलेट" से जोड़ कर उन्हें मुख्यधारा की शिक्षा प्रणाली में शामिल किया गया है। इस अवसर पर उपस्थित सीएनआई के बिशप कॉलिन थियोडोर; महाबोधि अंतर्राष्ट्रीय मैडिटेशन सेंटर के सचिव वेन नागसेना; एएमयू के कुलपति श्री तारिक मंसूर; गुरु हरकिशन पब्लिक स्कूल सोसाइटी के चेयरमैन श्री मंजीत सिंह;अंजुमन-ए-इस्लाम, मुंबई के अध्यक्ष डा. जहीर काजी ने छात्रों की हौसला अफजाई की