नई दिल्ली, 26 अक्टूबर 2017:आज अंत्योदय भवन में मलेशिया में शिक्षा के क्षेत्र में काम कर रहे संगठन "पिंटा" के प्रतिनिधिमंडल से भेंट में अल्पसंख्यक समाज के शैक्षिक सशक्तिकरण के विभिन्न कार्यक्रमों पर चर्चा हुई।"पिंटा" के प्रतिनिधिमंडल ने अल्पसंख्यक मंत्रालय द्वारा शैक्षिक सशक्तिकरण के लिए चल रही योजनाओं जैसे "3टी- टीचर, टिफ़िन, टॉयलेट" जैसी विभिन्न योजनाओं की सराहना की।
प्रतिनिधिमंडल ने केंद्र सरकार द्वारा मदरसों को आधुनिक एवं मुख्यधारा की शिक्षा व्यवस्था में शामिल करने के प्रयासों को महत्वपूर्ण बताया, शिक्षा के क्षेत्र में मलेशिया-भारत के परस्पर सहयोग पर बल दिया।शिक्षा ही सशक्तिकरण का केंद्र बिंदु है। केंद्र की प्रधानमंत्री श्री Narendra Modi जी की सरकार अल्पसंख्यकों सहित सभी तबकों के शैक्षिक सशक्तिकरण के प्रति मजबूती से काम कर रही है।भारत सुलभ-गुणवत्तापूर्ण शिक्षा का "हब" बन रहा है जहाँ दुनिया के सभी देशों के नौजवान शिक्षा हेतु बड़ी संख्या में आ रहे हैं।